Best Shayari Aakhon Par : आंखों पर शायरी

 आंखों पर शायरी : Best Shayari Aakhon Par, उर्दू के प्रसिद्ध शायरों द्वारा आंखों पर शायरी की मनमोहक रचनाओं का संकलन मिलेगा जो आपकी कल्पना शक्ति को एक नई दिशा प्रदान करेगा।

 

Aakhon Par Shayari : (आंखों पर शायरी)

आंखों पर शायरी, Best Shayari Aakhon Par, Ashsar, best eye shayari in hindi, sharab aur aakhen shayari

ना जाने बात क्या है तुम्हें जिस दिन से देखा है,
मेरी आंखों से यह दुनिया हसीन मालूम पड़ती है।

रियाज़ खैराबादी

 

Na Jane Kya Baat Hai Use Jis Din Se Dekha Hai,
Meri Akhon Se Ye Duniya Haseen Malum Padti Hai.

 

**********

 

अल्लाह हुस्न दे तो हया भी जरूर दे,
किस काम की वह आंखें जिसमें हया नहीं।

रियाज़ खैराबादी

 

Allah Husn De Toh Haya Bhi Zaroor De,
Kis Kaam Ki Wah Aakhein Jisme Haya Nahi.

 

**********

 

दिल के सब राज़ इशारों से बता देता है,
होंठ हिलते नहीं आंखों से सदा (आवाज) देता है।

एजाज़ अंसारी

 

Dil Ke Sab Raaz Isharon Se Bata Deta Hai
Hoth Hilte Nahi Aakhon Se Sada (Aawaz) Deta Hai.

 

**********

 

रह गए लाखों, कलेजा थाम कर
आंखे जिस ओर, तुम्हारी उठ गई।

दाग़ देहलवी

 

Reh Gaye Laakhon, Kaleja Tham Kar
Aakhein Jis Oor, Tumhari Uth Gayi.

 

**********

 

वह चश्मे-मस्त कितनी खबरदार थी,
खुद होश में रही बदनाम हमें कर दिया।

अदम

 

Wah Chashme-Mast Kitni Khabardar Thi,
Khud Hosh Me Rahi Badnaam Hume Kar Diya.

 

********** 

 

Top 5 Aakhein Aur Sharab Shayari : (शराब और आंखों पर शायरी)

 

तेरी आंखें भी, मांगती है शराब
मैकदे खुद भी, जाम पीते हैं।

अदम

 

Teri Aakhon Bhi, Mangti Hai Sharab
Maikade Khud Bhi, Jaam Peete Hain.

 

**********

 

मैकदे में नजर आते हैं, सभी जाम बदस्त मुझको
आंखों से पिलाओ, तो कोई बात बने।

अशोक साहनी

 

Maikade Me Nazar Aate Hain, Sabhi Jaam Jabardast Mujhko
Aakhon Se Pilao, Toh Koi Baat Bane.

 

**********

 

देखा किए वह मस्त निगाहों से बार-बार
जब तक शराब आई, कई दौर हो गए

हसरत मोहानी

 

Dekha Kiye Wah Mast Nigahon Se Baar-Baar
Jab Tak Sharab Aayi, Kayi Daur Ho Gaye.

 

**********

 

तुम्हारी बेरुखी ने, लाज रख ली मयखाने की
तुम आंखों से पिला देते, तो पैमाने कहां जाते हैं।

क़तील शिफाई

 

Tumhari Berukhi Ne, Laaj Rakh Li Maykhane Ki
Tum Aankhon Se Pila Dete, Toh Paimana Kahan Jate Hain.

 

**********

 

जिक्र करते हुए, उन आंखों का हम
चले आए हैं, मैंखाने तक

अदम

 

Zikra Karte Hue, Un Aankhon Ka Hum
Chale Aaye Hain, Maikhane Tak

 

5 जबरदस्त,आंखों पर शायरी : Best 5 Shayari on Eyes In English Font 

 

तेरी आंखों का, कुछ कसूर नहीं
हां मुझको ही बर्बाद होना था।

जिगर मुरादाबादी

 

Teri Aankhon Ka, Kuch Kasoor Nahi
Haan Mujhko Hi Barbaad Hona Tha.

 

**********

 

बंद थी आंखें किसी की याद में
मौत आई और धोखा खा गई।

अज्ञात

Band Thi Aankhein Kisi Ki Yaad Me
Maut Aayi Aur Dhokha Kha Gayi.

 

**********

 

हिज्र की आंखों से आंखें तो मिलाते जाइए,
हिज्र में करना है क्या यह तो बताते जाइए

जॉन एलिया

 

Hijra Ki Aankhon Se Aankhein Toh Milate Jaiye,,
Hijra Me Karna Hai Kya Yah Toh Batate Jaiye.

 

**********

 

मुझको शिकवा है, अपनी आंखों से
तुम ना आए तो, नींद क्यों आई

अज्ञात

 

Mujhko Sikwa Hai,, Apni Aankhon Se
Tum Na Aaye Toh, Neend Kyon Aayi.

 

**********

 

दिल तो शौके-दीद में तड़पा किया
आंख ही कमबख़्त शर्माती रही

अज्ञात

 

Dil Toh Shauke-Deed Me Tadapa Kiya
Aankh Hi Kambakth Sharmati Rahi.

 

**********

 

फरियाद कर रही है वह तरसती हुई निगाह
देखे हुए किसी को जमाना गुजर गया

अज्ञात

 

Fariyaad Kar Rahi Hai Wah Tarasti Hui Nigah
Dekhe Hue Kisi Ko Jamana Guzar Gaya.

 

**********

 

उठ रही है वह आंख, रुक-रुक कर
कत्ल मैं हो रहा हूं किस्तों में

अज्ञात

 

Uth Rahi Hai Wah Aankh, Ruk-Ruk Kar
Katla Main Ho Raha Hun Kishtoh Me

**********

 

इश्क में ख्वाब का ख्याल किसे
ना लगी आंख जब से आंख लगी

अज्ञात

 

Ishq Me Khwab Ka Khayal Kise,
Na Lagi Aankh, Jab Se Aankh Lagi

 

**********

 

कई बिजलियां, बे गिरे गिर पड़ी
उन आंखों को अब, आ गया मुस्कुराना।

फ़िराक़ गोरखपुरी

 

kayi Bijliyaan, Be Gire Gir Padi
Un Aankhon Ko Ab, Aa Gaya Muskurana

 

**********