Latest 15+ | Best & New | Mohabbat Shayari in Urdu-Hindi

Mohabbat Shayari in Urdu

सब कुछ #खुदा से माँग लिया, #तुझको माँगकर,
उठते नहीं हैं #हाथ, मेरे इस #दुआ के बाद।

Mohabbat Shayari in Urdu
Mohabbat Shayari in Urdu

***********************

क्यों आज बिन #पीये ही बहकने लगा हूँ मैं,
अपनी नजर के #मस्त इशारों से पूछ लो।

Mohabbat Shayari in Urdu
Mohabbat Shayari in Urdu

***********************

हम तो यूँ ही आये थे तेरे दर पर #रौनक देखने
हमे क्या पता था तुम #दीवाना बना दोगे

Mohabbat Shayari in Urdu
Mohabbat Shayari in Urdu

***********************

सारी #दुनिया की खुशी अपनी जगह
उन सबके बीच तेरी कमी अपनी जगह!!!

***********************

Mohabbat Shayari Urdu

हम तो बस #लिख देते हैं #जहन में आ जाता है जो
जुड़ जाता है आपके #दिल से तो बस #इत्तेफाक
समझिये!!!

***********************

सितम पर #सितम कर रहे हैं वह मुझ पर
मुझे शायद #अपना समझने लगे हैं!!!

Mohabbat Shayari in Urdu
Mohabbat Shayari in Urdu

***********************

तेरे बाद खुद को इतना #तनहा पाया,
जैसे लोग हमें #दफना के चले गए हो !!

***********************

तेरी बातों में लाख #मिठास सही,
पर #जहर सा लगता है,
तेरा किसी और से बात करना..

***********************

बड़ी ही #खूबसूरत शाम हुआ करती थी वो तेरे साथ की …..
अब तक खुशबू नही गई, मेरी #कलाई से तेरे हाथ की…

***********************

Urdu Mohabbat Shayari

#खूबियाँ लाख किसी में हों तो जाहिर न करें
लोग करते हैं बुरी #बात का चर्चा कैसा

Mohabbat Shayari in Urdu
Mohabbat Shayari in Urdu

***********************

चुपचाप #गुज़ार# देगें तेरे बिना भी ये #ज़िन्दगी#,
#लोगो# को सिखा देगें # मोहब्बत ऐसे भी होती है।

***********************

मैं #नींद का #शौक़ीन# ज्यादा तो नही..
लेकिन तेरे #ख्वाब# ना देखूँ तो #गुज़ारा# नही होता..!!

***********************

#ज़िंदगी जब अज़ाब होती है
#आशिक़ी कामयाब होती है

***********************

#अलफ़ाज़# नहीं बचे अब सबकुछ #लिख# चूका हूँ,
शायद #मोहब्बत# के खातिर पूरी तरह #बिक# चूका हूँ…..

***********************

साक़ी मेरे # मोहब्बत की #शिद्दत तो देखना,
फिर आ गया हूँ रोज़ मर्रा के #ग़मों को टालकर

***********************

#मोहब्बत में ग़लत कुछ सोचा नही जाता,
कहा जाता है जरूर #बेवफा पर समझा नही जाता

***********************

चाँद सी शक्ल जो #अल्लाह ने दी थी तुम को,
काश रौशन मिरी #क़िस्मत का सितारा करते

***********************

Read This Also –

Best 50+ Latest Saqi Maikhana Shayari, Quotes, Status, Urdu Poetry

Best 20+ Latest शराब और शराबियों पर शायरी In Hindi