Best 200+ Latest Rahat Indori Shayari in Hindi

Rahat Indori Shayari In Hindi

कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते हैं, कभी धुएं की तरह पर्वतों से उड़ते हैं यह क्या हमें उड़ने से खाक रोकेंगे कि हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं। इस पोस्ट में हमने डॉ राहत इंदौरी की फेमस शायरी का संकलन कर आपसे साझा किया है। Read The Latest Rahat Indori … Read more